Friday, January 11, 2013

तुम अपने आप में पूरी हो जाना..........सचिन कुमार जैन


जब कोई तुमसे यह बोले तुम तो देवी हो
उससे तुम सजग रहना
जब कोई तुमसे बोले तुम तो ममता हो
उससे तुम सचेत रहना

जब कोई तुमसे बोले तुम स्नेह की प्रतिमा हो
उससे तुम बच कर रहना
जब कोई तुमसे बोले तुम ही चरित्र हो
उससे तुम दूरी बना लेना

जब कोई तुमसे बोले चुप रहना ही जिम्मेदारी है
उस पर तुम विश्वास मत करना
जब कोई तुमसे बोले तुम उस पर निर्भर हो
तुम उससे नाता तोड़ लेना

जब तुमसे कोई बोले तुम केवल यौनिकता हो
तुम बिना सोचे उसका प्रतिकार करना
जब कोई तुमसे बोले वह तुम्हारी रक्षा करेंगे
तुम अपनी ताकत को इकठ्ठा कर खड़े हो जाना

जब कोई तुमसे बोले तुम पीछे चलो
तुम अपनी राह खुद चुन लेना
जब कोई तुमसे बोले बलिदान ही तुम्हारी नियति है
तब तुम अपनी मुट्ठी भींच लेना

तुम अब किसी को कुछ मत कहने देना
तुम अब अपने आप में पूरी हो जाना.....। 


-----सचिन कुमार जैन

6 comments:

  1. nice creation जब तुमसे कोई बोले तुम केवल यौनिकता हो
    तुम बिना सोचे उसका प्रतिकार करना
    जब कोई तुमसे बोले वह तुम्हारी रक्षा करेंगे
    तुम अपनी ताकत को इकठ्ठा कर खड़े हो जाना

    जब कोई तुमसे बोले तुम पीछे चलो
    तुम अपनी राह खुद चुन लेना
    जब कोई तुमसे बोले बलिदान ही तुम्हारी नियति है
    तब तुम अपनी मुट्ठी भींच लेना

    ReplyDelete
    Replies
    1. शुक्रिया मधु बहन

      Delete
  2. सुन्दर प्रस्तुति

    ReplyDelete
  3. शुक्रिया भाई ओंकार जी

    ReplyDelete