Sunday, May 14, 2017

जानती हूँ ...मेरी माँ....अलका गुप्ता

.......मातृ-दिवस पर विशेष......

कुछ दिल में अरमान हैं ।
मैं भी कुछ करूँ ...।
यूँ ही न मरुँ ...।
दुनियां अपनी करूँ ।।
चंद सांसें मुझे भी ,
जी लेने दे ...मेरी माँ !
जानती हूँ ...मेरी माँ !
तुम्हारे दिल का दर्द ।
जो तुमने झेला है ।।
उससे ही बचाना है ।
मगर कुछ सोचो... माँ !
हिम्मत कर माँ !!
अजन्मी इस बेटी को ...
तुझे आज बचाना है ..!!!
क्यूंकि दिल में .....
उसके भी .....
कुछ अरमान हैं ।।
-अलका गुप्ता 

6 comments:

  1. मदर्स डे की हार्दिक शुभकामनाओं सहित , " तेरे आँचल में - मदर्स डे की ख़ास ब्लॉग बुलेटिन " , मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर.....

    ReplyDelete
  3. बहुत ही सुन्दर ।।।।

    ReplyDelete
  4. अल्‍का जी , बहुत खूबसूरती से कहा अद्भुत संदेश

    ReplyDelete
  5. आदरणीय, अत्यंत विचारणीय ,बहुत सुंदर ! आभार।

    ReplyDelete